Placeholder canvas

Bharat NCAP : भारत में लॉन्च हुआ ‘न्यू कार असेसमेंट प्रोग्राम’, ऐसा करने वाला 5वां देश बना भारत

Bharat NCAP : दिल्ली में एक कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी द्वारा भारत न्यू कार असेसमेंट प्रोग्राम का उद्घाटन किया गया। इसके तहत अब भारत में बनाई और बेची जाने वाली कारों का क्रैश टेस्ट होगा एवं इसके आधार पर उन्हें सेफ्टी रेटिंग प्रदान की जाएगी। यात्रियों की सुरक्षा को बेहतर बनाने के उद्देश्य से यह कार्यक्रम शुरू किया गया है।

अब तक यह काम ग्लोबल NCAP एजेंसी द्वारा किया जाता था, जिसेक लिए गाड़ियों को विदेश भेजना पड़ता था। लेकिन अब भारत के अपने कार असेसमेंट प्रोग्राम के तहत वाहनों को सेफ्टी रेटिंग दी जाएगी।

5वां देश बना भारत

भारत दुनिया का 5वां ऐसा देश बन चुका है, जिसके पास अपना खुद का क्रैश टेस्ट रेटिंग प्लेटफॉर्म मौजूद है। ग्लोबल NCAP द्वारा मंत्रालय के साथ मिलकर Bharat NCAP क्रैश टेस्ट रेटिंग का एलान किया गया है। आगामी 1 अक्टूबर 2023 से सरकार द्वारा लॉन्च किए गए भारत NCAP प्रोग्राम के तहत कार क्रैश रेटिंग लागू हो जाएगी।

दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम के दौरान नितिन गडकरी ने Bharat NCAP के लोगो और स्टीकर का अनावरण किया। इस दौरान उन्होनें कहा कि यह दिन देश की ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री के ही नहीं बल्कि पूरे समाज के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। आज भारत NCAP को आधिकारिक तौर पर लॉन्च किया जा रहा है।

उन्होंने घोषणा की कि Bharat NCAP के पास 30 मॉडलों के क्रैश टेस्ट के लिए रिक्वेस्ट आ चुकी है। नितिन गडकरी ने कार सुरक्षा के साथ ही सड़क इंजीनियरिंग को भी एक समस्या बताया और कहा कि मंत्रालय इसका समाधान करने का प्रयास कर रहा है। उन्होंने कहा कि देश की दो सबसे बड़ी मुश्किलें रोड एक्सीडेंट और वायु प्रदूषण हैं। हर साल देश में करीब 5 लाख दुर्घटनाओं में 1.5 लाख से अधिक लोगों की मौत होती है।

Bharat NCAP क्या है?

भारत न्यू कार एसेसमेंट प्रोग्राम (Bharat NCAP) वाहनों के सुरक्षा मूल्यांकन का एक कार्यक्रम है, जिसमें वाहनों की क्रैश टेस्टिंग के बाद उनकी परफॉर्मेंस के आधार पर उन्हें रेटिंग दी जाएगी। जैसा कि आपने ग्लोबल NCAP क्रैश टेस्ट में देखा होगा। रोड ट्रांसपोर्ट मिनिस्ट्री द्वारा कारों के क्रेश टेस्ट और सेफ्टी रेटिंग हेतु पैरामीटर तय हो चुके हैं।

Leave a Comment