Placeholder canvas

भारत के ऐसा राज्य, जहाँ है केवल 1 रेलवे स्टेशन, ऐसे होता है यहाँ सफ़र

भारतीय रेलवे को देश की लाइफ लाइन भी कहा जाता है. हर दिन करोड़ों लोग अपने गंतव्य तक पहुंचने के लिए रेलगाड़ी से सफ़र करते हैं. रेलवे का नेटवर्क भारत में काफी बड़ा है जो देश के गाँव-शहरों को एक दूसरे से जोड़ता है. भारत में लगभग 8,000 रेलवे स्टेशन मौजूद हैं. कई राज्यों में तो सैकड़ो रेलवे स्टेशन हैं. मगर एक ऐसा राज्य भी है जहां सिर्फ एक ही रेलवे स्टेशन है. और वह राज्य है, मिजोरम. जी हां, देश के उत्तर-पूर्वी राज्य मिजोरम में केवल एक ही रेलवे स्टेशन है जहां पर ट्रेन पहुंचती है.

ये है मिजोरम का एकमात्र स्टेशन

मिजोरम भारत के सबसे पूर्वी हिस्से में बसा एक पहाड़ी राज्य है. यहां रेल नेटवर्क न के बराबर है. यहाँ का एकमात्र रेलवे स्टेशन बइराबी (Bairabi Railway Station) है. यह स्टेशन बइराबी शहर में स्थित है, जो मिजोरम के कोलासिब जिले में स्थित है. इस स्टेशन से यात्री ट्रेनों के अलावा मालगाड़ी भी चलती है. मिजोरम की आबादी करीब 11 लाख है और जाहिर सी बात है कि लोगों को लम्बी दूरियों के सफ़र में दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. कोई अन्य रेलवे स्टेशन न होने के कारण राज्य के सभी लोग यात्रा करने के लिए बैराबी पहुंचते हैं.

लोगों को है दुसरे रेलवे स्टेशन का इन्तजार

बइराबी रेलवे स्टेशन पर सुविधाओं की भी कमी है, जहां कुल मिलाकर केवल तीन प्लेटफार्म हैं. इस रेलवे स्टेशन का कोड BHRB है. स्टेशन पर ट्रेनों की आवाजाही के लिए चार रेलवे ट्रैक हैं. इस स्टेशन का पुनर्विकास 2016 में शुरू किया गया था. पहले यह स्टेशन अपने वर्तमान स्वरूप से भी छोटा हुआ करता था. बैराबी रेलवे स्टेशन असम के कटाखल जंक्शन से जुड़ा है जो 84 किलोमीटर की दूरी पर है.

भारतीय रेलवे की ओर से मिजोरम में एक और रेलवे स्टेशन बनाने का भी प्रस्ताव है. उनमें से एक परियोजना है सिलचर-तुइपुई रेलवे परियोजना जो उत्तर मिजोरम के जिले सिलचर से मणिपुर के तुइपुई जिले तक जाने वाली है. इस परियोजना के तहत, कुछ नए रेलवे स्टेशन बनाए जाने की योजना है.

Leave a Comment