ITR Refund : टेक्स भरने वालों के लिए एक बड़ी खबर सामने आई है। दरअसल वर्तमान में टैक्स रिफंड के लिए 16 दिनों का प्रोसेसिंग टाइम लगता है, लेकिन आयकर विभाग की योजना है कि इसे घटाकर सिर्फ 10 दिन कर दिया जाए। एक रिपोर्ट के मुताबिक आयकर विभाग द्वारा नई समयसीमा चालू वित्त वर्ष के दौरान लागू हो सकती है।

आयकर विभाग द्वारा करदाताओं को ITR Refund जारी करने और प्रोसेसिंग में लगने वाली औसत अवधि को कम करने हेतु कदम उठायें जा रहे हैं। एक सूत्र के मुताबिक, 2022-23 में टैक्स रिटर्न की प्रोसेसिंग में विभाग को औसतन 16 से 17 दिन का वक्त लगा, जबकि पिछले साल 26 दिन का समय लगा था। लेकिन अब विभाग द्वारा 10 दिनों में टैक्स रिटर्न प्रोसेस करने एवं रिफंड जारी करने पर चर्चा की जा रही है। हालांकि इसे लेकर फ़िलहाल कोई पुष्टि नहीं हुई है।

CBDT के अध्यक्ष नितिन गुप्ता ने बताया कि इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने रिफंड जारी करने में लगने वाले औसत समय में काफी सुधार कर लिया है। उन्होंने बताया कि 2022-23 में रिटर्न दाखिल करने के 30 दिनों के अंदर 80% से ज्यादा रिफंड जारी हो चुके थे। आयकर रिटर्न (ITR Refund) प्रोसेसिंग में तेज़ी आई है और इसका कारण है कि विभाग बड़े पैमाने पर प्रौद्योगिकी को लागू कर रहा है।

ITR Refund : अभी तक दिया गया इतना रिटर्न

आयकर विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, चालू वित्त वर्ष 2023-24 हेतु करीब 6.91 करोड़ ITR दाखिल हुए हैं, जिनमे से 4.82 करोड़ ITR की प्रोसेसिंग का काम पूरा हो चुका है। आपको बता दें विभाग ने 1 अप्रैल से 21 अगस्त तक 72,215 करोड़ रुपये का टैक्स रिफंड जारी कर दिया है। इसमें से 37,775 करोड़ रूपये कंपनियों को एवं 34,406 करोड़ रुपये व्यक्तियों को दिए गए हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *