भारत में त्योहारों का दौर शुरू हो चूका है और शादी सीजन भी लगभग आ ही गया है। महज कुछ ही दिन बचे है अब नवरात्र शुरू होने में,  ऐसे में देश में लगातार बढ़ रहे चीनी के दाम आम ज़िन्दगियों को खासा परेशान कर सकते है। ऐसे में सरकार ने कुछ अहम फैसले लिए है इस पर लगाम लगाने के लिए। 

चीनी पर भी स्टॉक लिमिट का नियम

सरकार ने टमाटर, प्याज, दाल, चावल और गेहूं के बाद अब चीनी पर भी स्टॉक लिमिट का नियम लागू कर दिया है। इसके तहत दुकानदार अब तय लिमिट से अधिक चीनी का स्टोरेज नहीं कर सकेंगे। इसके बाद भी अगर कोई  दुकानदार स्टॉक लिमिट की तय सीमा से अधिक चीनी रखते हुए पाया गया तो उनके खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई होगी।

त्योहारी सीजन में महंगाई बढ़ना लगभग तय

अगर हम त्योहारों के सीजन की बात करे तो इसमें आटा, चीनी समेत अन्य कई चीजों की खपत बढ़ ही जाती है। ऐसे में त्योहारी सीजन में महंगाई बढ़ना लगभग तय माना जाता है। लिहाजा केंद्र सरकार ने चीनी के दाम आसमान छुए इससे पहले ही उन्होंने एहतियातन  कदम उठा लिया है।

अक्टूबर से  13 लाख टन चीनी का स्टॉक रिलीज़

इसके अलावा केंद्र सरकार ने स्टॉक लिमिट के साथ-साथ बाजार में भी खुद चीनी बेचने की घोषणा की है। इसी सिलसिले में सरकार अगले महीने यानी अक्टूबर से  13 लाख टन चीनी का स्टॉक रिलीज़ करने जा रही है। अनुमान लगाया जा रहा है कि सरकार के इस कदम से दुर्गा पूजा और दिवाली जैसे अन्य कई  त्योहारों में चीनी की कीमत लगभग स्टेबल ही रहेगी  और जब मांग बढ़ेगी तो भी चीनी के दाम पर कोई खास असर नहीं पड़ेगा। आम आदमी भी आसानी से अपना त्यौहार मना पाएंगे।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *